Monday November 2 2015 15:07:12


ना ज़रूरत उसे पूजा और पाठ की,जिसने सेवा करी अपनी माँ-बाप की।

तारीख: 21/3/2020